Mutual Funds: | Mutual Funds:


Mutual Funds: एक निवेश ऑप्शन के तौर पर म्यूचुअल फंड तेजी से लोकप्रिय हो रहा है. खासकर म्यूचुअल फंड में सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (एसआईपी) के जरिए लोग निवेश करना अधिक पसंद कर रहे हैं. अक्सर देखा गया है कि जब अच्छा रिटर्न मिलता है तो निवेशक प्रोफिट बुकिंग (मुनाफा निकालना) और बाजार से बाहर निकलने के बारे में सोचने लगते हैं. आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि अगर आप म्यूचुअल फंड से पैसा निकालना चाहते हैं तो आपको किन बातों पर ध्यान देना चाहिए.

वित्तीय लक्ष्य 
म्यूचुअल फंड से पैसा निकालते वक्त इस बात का आंकलन जरूर करें कि आपने जिस वित्तीय लक्ष्य के लिए पैसा लगाया था वह पूरा हुआ या नहीं. अगर आपका वित्तीय लक्ष्य पूरा नहीं हुआ है तो आपको म्यूचुअल फंड से पैसा निकालने से बचना चाहिए.

कब पैसा निकालें, कब नहीं
स्टॉक और कमोडिटी बाजार की अस्थिरता की वजह से भी निवेशक पैसा निकालने का फैसला ले लेते हैं. दरअसल एक निवेशक के तौर पर तब प्रोफिट बुक करना चाहिए जब बाजार चढ़ रहा हो. जब स्टॉक की कीमतें नीचे आ रही हों तो अधिक निवेश करना चाहिए. बाजार को समय जरूर देना चाहिए लेकिन रणनीती के साथ.

एक को छोड़ दूसरे फंड में जाना
इक्विटी म्यूचुअल फंड में लंबी अवधि के लिए निवेश किया जाना चाहिए लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि पैसा लगाने के बाद आप आराम से बैठ जाएं. किसी वित्तीय सलाहकार की मदद से नियमित रूप से फंड के प्रदर्शन की समीक्षा करें. वित्तीय सलाहकार अगर किसी बेकार या कमजोर फंड से बाहर निकलने की सलाह दें तो आप किसी अन्य फंड्स में जा सकते हैं.

इन बातों का भी रखें ध्यान
अगर आप पैसा निकालना ही चाहते हैं तो चरणबद्ध तरीके से इक्विटी निवेश से बाहर निकलने के बारे में सोच सकते हैं. आप डेब्ट फंड्स में एंट्री कर सकते हैं. इन्हें अपेक्षाकृत कम जोखिम भरा माना जाता है. यदि कोई निवेशक बाजार की बदलती चाल का लाभ उठाना चाहता है, तो बाजार की बदलती परिस्थितियों के अनुरूप फंड के प्रकार को बदलने के लिए सैटेलाइट पोर्टफोलियो का इस्तेमाल करे.

(यहां ABP News द्वारा किसी भी फंड में निवेश की सलाह नहीं दी जा रही है. यहां दी गई जानकारी का सिर्फ़ सूचित करने का उद्देश्य है. म्यूचुअल फंड निवेश बाज़ार जोखिम के अधीन हैं, योजना संबंधी सभी दस्तावेज़ों को सावधानी से पढ़ें. योजनाओं की NAV, ब्याज दरों में उतार-चढ़ाव सहित सिक्योरिटी बाज़ार को प्रभावित करने वाले कारकों व शक्तियों के आधार पर ऊपर-नीचे हो सकती है. किसी म्यूचुअल फंड का पूर्व प्रदर्शन, आवश्यक रूप से योजनाओं के भविष्य के प्रदर्शन का परिचायक नहीं हो सकता है. म्यूचुअल फंड, किन्हीं भी योजनाओं के अंतर्गत किसी लाभांश की गारंटी या आश्वासन नहीं देता है और वह वितरण योग्य अधिशेष की उपलब्धता और पर्याप्तता से विषयित है. निवेशकों से सावधानी के साथ विवरण पत्रिका (प्रॉस्पेक्टस) की समीक्षा करने और विशिष्ट विधिक, कर तथा योजना में निवेश/प्रतिभागिता के वित्तीय निहितार्थ के बारे में विशेषज्ञ पेशेवर सलाह को हासिल करने का अनुरोध है.)

 

 

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI



Source link

Leave a Comment