India Vs South Africa Cape Town Test 1st Day Virat Kohli Half Century Jasprit Bumrah Wicket


South Africa vs India 3rd Test 1st Day Newlands Cape Town: सलामी बल्लेबाजों के जल्दी विकेट गंवाने के बाद कप्तान विराट कोहली (79 रन) के संयमित अर्धशतक के बावजूद भारतीय टीम मंगलवार को केपटाउन में तीसरे और अंतिम टेस्ट के शुरूआती दिन पहली पारी में 223 रन पर सिमट गई. इसके जवाब में दक्षिण अफ्रीका ने स्टंप तक एक विकेट गंवाकर 17 रन बना लिए. सुबह के सत्र में भारत ने अपने दोनों सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल और केएल राहुल के विकेट जल्दी गंवा दिए थे. फिर कोहली और चेतेश्वर पुजारा (43 रन) ने मिलकर तीसरे विकेट के लिये 62 रन की साझेदारी निभाकर टीम को संभाला.

कोहली ने तेज गेंदबाजों विशेषकर कगिसो रबाडा की तेज तर्रार गेंदों का डटकर सामना किया. पर इसी गेंदबाज ने उनकी 201 गेंद में 12 चौकों और एक छक्के की अर्धशतकीय पारी का अंत किया. पुजारा ने 77 गेंद की पारी में सात चौके लगाए. पीठ की चोट के कारण दूसरे टेस्ट में नहीं खेलने वाले कोहली शतक की ओर बढ़ रहे थे लेकिन दक्षिण अफ्रीका की तेज गेंदबाजी के अगुआ रबाडा ने उनकी इस उम्मीद को पूरा नहीं होने दिया.

अपना 50वां टेस्ट खेल रहे रबाडा ने 73 रन देकर चार विकेट हासिल किये जबकि मार्को जेनसन ने 55 रन देकर तीन विकेट झटके. स्टंप तक दक्षिण अफ्रीका के सलामी बल्लेबाज ऐडन मार्कराम आठ रन और रात्रिप्रहरी केशव महाराज छह रन बनाकर खेल रहे थे. भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने दक्षिण अफ्रीकी कप्तान और सलामी बल्लेबाज डीन एल्गर (03) का विकेट झटककर भारतीय टीम को पहली सफलता दिलायी. भारतीय टीम ने दूसरे सत्र में पुजारा और अजिंक्य रहाणे (12 गेंद में नौ रन) के विकेट गंवाकर 66 रन जोड़े जिससे चायकाल तक टीम का स्कोर चार विकेट पर 141 रन था. दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजों विशेषकर रबाडा ने न्यूलैंड्स में बादलों से भरे आसमान में दूधिया रोशनी के तले अपनी गेंदों से बल्लेबाजों को परेशानी में डाला.

जब Rahul Dravid के दम पर Team India ने रावलपिंडी में फहराया था तिरंगा, पारी और 131 रनों से हारा था पाकिस्तान

कोहली ने सुबह शानदार कवर ड्राइव से खाता खोला था, उन्होंने दोपहर के सत्र में जेनसन पर एक और खूबसूरत कवर ड्राइव लगाया. इसके अलावा उन्होंने रबाडा की गेंद पर एक छक्का भी जड़ा. रबाडा ने अपने सात ओवर के स्पैल में कहर बरपाया लेकिन कोहली ने उतने ही संयम और अनुशासन से इनका डटकर सामना किया. पुजारा ने फिर वही जुझारू जज्बा दिखाया लेकिन वह जेनसन की खूबसूरत गेंद का शिकार हुए. राउंड द विकेट से अंदर आकर कोण लेती गेंद पुजारा के बल्ले का बाहरी किनारा लेती हुई विकेटकीपर के हाथों में चली गयी.

रहाणे ने श्रृंखला के दौरान प्रभावशाली बल्लेबाजी की है लेकिन अच्छी शुरूआत को बड़े स्कोर में नहीं बदल पाये हैं और वह भी ज्यादा देर तक नहीं टिक सके. रबाडा की गुड लेंथ गेंद ने उनकी पारी समाप्त की. कोहली पांचवें विकेट के लिये ऋषभ पंत (27) के साथ अर्धशतकीय साझेदारी निभा चुके थे कि जेनसन ने भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज को आउट कर इस 51 रन की भागीदारी का अंत किया. इस पांचवें झटके के बाद भारत ने जल्दी जल्दी रविचंद्रन अश्विन (02), शारदुल ठाकुर (12) और जसप्रीत बुमराह (शून्य) के विकेट गंवा दिये और कोहली आउट होने वाले नौंवे खिलाड़ी रहे. भारतीय कप्तान रबाडा की गुडलेंथ गेंद को डीप प्वाइंट में खेलने की कोशिश में थे, पर गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर सीधे विकेटकीपर काइल वेरेने के हाथों में पहुंच गयी. भारतीय टीम ने अंतिम सत्र में छह विकेट गंवाये और 82 रन जोड़े.

IND vs SA 3rd Test: विराट कोहली ने जड़ा करियर का दूसरा सबसे धीमा अर्धशतक, जानिए कितनी गेंदों में पूरी की फिफ्टी

इससे पहले कोहली ने बादलों से भरे आसमान में न्यूलैंड्स की घसियाली पिच पर टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया. रबाडा और डुआने ओलिवर की जोड़ी ने पहले घंटे में परिस्थितियों का अच्छा इस्तेमाल कर क्रमश: अग्रवाल (35 गेंद में 15 रन) और राहुल (35 गेंद में 12 रन) को आउट किया. रबाडा ने लगातार ऑफ स्टंप को निशाना बनाया जबकि ओलिवर ने अच्छे उछाल की पिच पर तेज तर्रार गेंदबाजी की.

फॉर्म में चल रहे राहुल पिछले कुछ समय से गेंद छोड़ने के मामले में अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन उन्होंने ऑफ स्टंप के ऊपर जाती गेंद पर बल्ला छुआ दिया और गेंद उनके बल्ले का किनारा चूमते हुए विकेटकीपर के हाथों में समा गयी. रबाडा ने अग्रवाल को आगे खेलने के लिये उकसाया और गेंद उनके बल्ले का किनारा छूकर दूसरी स्लिप में खड़े ऐडन मार्कराम के हाथों में चली गयी. अग्रवाल ने जब खाता भी नहीं खोला था तब वह पारी के तीसरे ओवर में उन्हें जीवनदान मिला था.

भारत का स्कोर दो विकेट पर 33 रन था. तब कोहली और पुजारा क्रीज पर उतरे और दोनों ने पारी को संभाला. पुजारा ने फिर अच्छा जज्बा दिखाया और ढीली गेंदों को छोड़ने में काफी सक्रिय रहे. कोहली को खाता खोलने में 15 गेंद लगी लेकिन इंतजार का फल अच्छा रहा और फिर उन्होंने बायें हाथ के तेज गेंदबाज जेनसन पर खूबसूरत कवर ड्राइव लगाया.



Source link

Leave a Comment